Advertisement


Chor Bazari

Love Aaj Kal (2009)

Movie: Love Aaj Kal
Year: 2009
Director: Imtiaz Ali
Music: Pritam
Lyrics: Irshad Kamil
Singers: Neeraj Shridhar, Sunidhi Chauhan

 

चोरी, च्च चोरी
चोर बाज़ारी दो नैनों की
पहले थी आदत जो हैट गयी
प्यार की जो तेरी मेरी
उम्र आयी थी वो कट गयी
(चोरी)
दुनिया की तो फ़िक्र कहाँ थी
तेरी भी अब चिंता घट गयी
(चोरी, च्च चोरी)
तू भी तू है, मैं भी मैं हूँ
दुनिया सारी देख उलट गयी
तू ना जाने मैं ना जानू
कैसे सारी बात पलट गयी
घटनी ही थी ये भी घटना
घटते घटते लो ये घट गयी
हाँ चोर बाज़ारी दो नैनों की
पहले थी आदत जो हैट गयी
(चोरी, च्च चोरी)
(चोरी, च्च चोरी)

तारीफ़ तेरी करना
तुझे खोने से डरना
हाँ भूल गया अब तुझपे
दिन में चार दफा मरना
तारीफ़ तेरी करना
तुझे खोने से डरना
हाँ भूल गया अब तुझपे
दिन में चार दफा मरना
प्यार तुम्हारी उतरी सारी
बातों की बदली भी छट गयी
हम से मैं पे आयी ऐसे
मुझको तो मैं ही मैं कट गयी
एक हुए थे दो से दोनों
दोनों की अब राहें बट गयी
(च्च चोरी)
(चोरी, च्च चोरी)

(च्च चोरी)
(चोरी, च्च चोरी)
(च्च चोरी)
(चोरी, च्च चोरी)
अब तो फिकर नहीं
ग़म का भी ज़िकर नहीं
हाँ, होता हूँ मैं जिस रस्ते पे आये ख़ुशी वहीँ
आज़ाद हूँ मैं तुझसे
आज़ाद है तू मुझसे
हाँ, जो जी चाहे, जैसे चाहे
करले आज यहीं
लाज शरम की छोटी मोटी
जो थी डोरी वो भी कट गयी
चौक चौबारे गली मोहल्ले
खोल के मैं सारे घूँघट गयी
तू ना बदली, मैं ना बदला
दिल्ली सारी देख बदल गयी
एक मिनट में दुनिया दारी
की मैं सारी समझ निगल गयी
हाँ, रंग रंगा पानी पीके
सीढ़ी साधी कुड़ी बिगड़ गयी
देख के मुझको हस्ता गाता
सड़ गयी ये दुनिया सड़ गयी
(चोरी, च्च चोरी)
(चोरी, च्च चोरी)

Other songs from Love Aaj Kal (2009)


Advertisement


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Do NOT follow this link or you will be banned from the site!
%d bloggers like this: